ग्राम पंचायत मोपका के सरपंच एवं ग्राम वासियों के द्वारा बिलासपुर नगर निगम सीमा से हटाने ज्ञापन सौंपा गया।

ग्राम पंचायत मोपका के सरपंच एवं ग्राम वासियों के द्वारा बिलासपुर नगर निगम सीमा से हटाने ज्ञापन सौंपा गया।

बिलासपुर- छत्तीसगढ़ शासन द्वारा नगर निगम बिलासपुर की सीमा का विस्तार कर ग्राम पंचायत मोपका को नगर निगम सीमा क्षेत्र में सम्मिलित किए जाने का अभिप्राय रगड़ कर आपत्ति चाही गई है
अतः ग्राम पंचायत मोपका के निवासियों के द्वारा ग्राम पंचायत मोपका के नगर निगम सीमा में शामिल किए जाने का निम्नांकित बिंदुओं के आधार पर विरोध किया जाता है

1 ग्राम पंचायत मोपका बिलासपुर नगर निगम क्षेत्र से 7 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और आबादी की बसाहट विरल है अतः निगम क्षेत्र में सम्मिलित किया जाना औचित्य हीन है

2 ग्राम पंचायत मोपका में अधिकांशतः निम्न मध्यम आय वर्ग मजदूरी करने वाली जनसंख्या निवासरत है अतः ऐसे जनसंख्या को नगर निगम क्षेत्र में शामिल करना उनके कठिनाइयों को बढ़ाना ही होगा

3 ग्राम पंचायत में निवासरत लोगों को अपनी समस्याओं के समाधान के लिए किसी कार्यालय के चक्कर नहीं लगाने पड़ते उनका समस्याओं का समाधान ग्राम पंचायत के माध्यम से ही निराकृत हो जाता है किंतु निगम क्षेत्र में सम्मिलित किए जाने से उनके छोटे-छोटे कामों के लिए काम धाम छोड़कर नगर निगम कार्यालय के चक्कर लगाने होंगे

4 ग्राम पंचायत को नगर निगम क्षेत्र में सम्मिलित किए जाने से गरीब श्रमिकों पर विभिन्न प्रकार के करो जैसे जलकर प्रकाश कर संपत्ति कर सफाई कर आदि के भुगतान संबंधित आर्थिक बोझ पड़ेगा जिसे रोजी मजदूरी कर जीवन यापन करने वाले नागरिकों के लिए वाहन कर पाना संभव नहीं है

5 ग्राम पंचायत के निवासियों को अपना मकान के लिए किसी भी प्रकार के नक्शा पास करवाने की आवश्यकता नहीं होती वह बिना किसी कानूनी प्रक्रिया के अपना मकान बनवा सकता था किंतु निगम क्षेत्र में सम्मिलित किए जाने से गरीब जनता को नक्शा पास करवाने की जटिल कानूनी प्रक्रिया के कारण अपना मकान बनवाना दूभर हो जाएगा

6 ग्राम पंचायत मोपका में किसान परिवार निवास करते हैं ग्राम पंचायत होने के कारण पंचायत के द्वारा मवेशियों को चराने की व्यवस्था की जाती है जिससे किसानों की फसलों को कोई नुकसान ना हो किंतु नगर निगम क्षेत्र होने से मवेशियों के व्यवस्थापन ना होने से किसानों को खेती करने में भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा

7 अनुभवों से यह देखा गया है कि वर्तमान में बिलासपुर नगर निगम अपने क्षेत्र को सफाई ना लो बिजली पानी जैसी बुनियादी सुविधाएं मुहैया नहीं करा पा रहा है अर्थात वर्तमान क्षेत्र ही उससे नहीं संभल रहा है और प्रस्तावित ग्रामों को सम्मिलित किए जाने से क्षेत्र का विस्तार होने से अव्यवस्था और बढ़ेगी और उपरोक्त सुविधाएं मुहैया कराना लगभग नामुमकिन हो जाएगा
अतः नगर निगम क्षेत्र में मौका पंचायत को सम्मिलित किया जाना उचित नहीं है

8 ग्राम पंचायत के छोटे कारोबारियों जैसे ठेला रेवड़ी चार्ट खोमचे अंसारी आदि दुकानदारों से बाजार टैक्स वसूली के कारण उनकी आजीविका के साधनों पर दुष्प्रभाव पड़ेगा परिणाम स्वरूप गर्भ आर के कारण उनका कारोबार नष्ट होगा और जीविकोपार्जन की समस्या खड़ी हो जाएगी
उपरोक्त सभी कारणों को दृष्टिगत रखते हुए ग्राम पंचायत मोपका के समस्त ग्रामवासी ग्राम पंचायत मौका को नगर निगम बिलासपुर क्षेत्र में सम्मिलित किए जाने के विरोध में अपनी आपत्ति दर्ज कराता है

vandana