अटल बिहारी बाजपेई यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह से नगर विधायक शैलेश पाण्डेय ने किनारा कर ही लिया।

बिलासपुर. अटल बिहारी बाजपेई यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह से नगर विधायक शैलेश पाण्डेय ने किनारा कर ही लिया
अपने सम्मान को लेकर पहुंची ठेस के बाद विधायक ने कार्यक्रम में नहीं जाने का फैसला किया वही उन्होंने कुलपति को ढेर सारी शुभकामनाएं भी प्रेषित की है इधर इस मामले को लेकर कुछ विधायक और प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने भी नाराजगी व्यक्त कर दीक्षांत समारोह में नहीं जाने की बात कहीं है।आखिरकार नगर विधायक शैलेश पाण्डेय ने अटल बिहारी द्वारा आयोजित दीक्षांत समारोह में जाने से इंकार कर ही दिया उक्त कार्यक्रम में राज्यपाल अनसुईया उईके, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल के साथ इक्का दुक्का अतिथियों नहीं शिरकत की है वही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के दिल्ली में होने के कारण वह भी कार्यक्रम में नहीं पहुंचे।
सम्मान और खुशी से नही बुलाया..पाण्डेय
इतने हो हंगामे के बाद भी अटल बिहारी यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में नहीं जाने के सवाल पर नगर विधायक ने’ कहा की मुझे और मेरे मुख्यमंत्री को सम्मान और खुशी से यूनिवर्सिटी प्रबंधन ने नहीं बुलाया इसलिए मैं कार्यक्रम में नहीं गया मैं अपने सम्मान के खिलाफ कोई भी बात बर्दाश्त नहीं करता इसके बाद दीक्षांत समारोह में जाने का कोई सवाल ही पैदा नहीं होता फिर भी आदरणीय कुलपति को सफल दीक्षांत समारोह की अग्रिम शुभकामनाएं देता हूं।
नेता प्रतिपक्ष ने भी किया किनारा..
राज्यपाल की अगुवाई के दौरान हेलीपैड में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक भी मौजूद थे उन्होंने विधायक श्री पांडे से चर्चा की और अटल यूनिवर्सिटी प्रबंधन के रवैया को लेकर अपनी नाराजगी व्यक्त करउन्होंने कहा कि अगर नगर विधायक के साथ यूनिवर्सिटी प्रबंधन का यह हाल है तो मैं कैसे कार्यक्रम में जा सकता हूं।
जनता के विश्वास पर खरा उतरे विधायक..
इतनी छीछालेदर के बाद विधायक श्री पाण्डेय के दीक्षांत समारोह में जाने को लेकर शहर में तरह तरह की चर्चा हो रही थी लोगो का मानना भी यही था कि इतना कुछ होने के बाद भी विधायक को दीक्षांत समारोह नहीं जाना चाहिए और हुआ भी यही विधायक ने अटल यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में नही जाने का फैसला लिया और जनता के विश्वास पर खरा उतरे।
vandana