बिलासपुर। विश्व रंग कार्यक्रम के तहत डॉ सी वी रामन विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित तीन दिवसीय युवा महोत्सव के पहले दिन आज विख्यात रंगकर्मी और अभिनेत्री उषा गांगुली ने अंतर्यात्रा नाटक का मंचन किया।

 

बिलासपुर। विश्व रंग कार्यक्रम के तहत डॉ सी वी रामन विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित तीन दिवसीय युवा महोत्सव के पहले दिन आज विख्यात रंगकर्मी और अभिनेत्री उषा गांगुली ने अंतर्यात्रा नाटक का मंचन किया।

नारी चेतना को मुखरित और मानवीय संवेदनाओं को कुरेदने वाले नाटक को देखकर सभी ने सराहा। उषा गांगुली के सोलो अभिनय ने लोगों को मुग्ध कर दिया।

बिलासपुर शहर में तीन दिवसीय युवा महोत्सव का आगाज हो गया है । इसके पहले दिन आज कोलकाता की विख्यात रंगकर्मी , लेखिका और अभिनेत्री उषा गांगुली ने अपने प्रसिद्ध नाटक अंतर्यात्रा की प्रस्तुति लखीराम ऑडिटोरियम में दी । सोलो एकल के अभिनय से अंतरयात्रा नाटक के माध्यम से विख्यात रंगकर्म उषा गांगुली ने नारी की व्यथा को सबके सामने रखा। उषा गांगुली ने बताया कि यह नाटक वास्तव में नारी को शक्ति देने वाला नाटक है जिसे दुनिया भर के देशों में पसंद किया गया और सराहा गया पिछले 15 साल से या नाटक दुनिया के कई देशों में मंचन किया जा चुका है वास्तविक रूप में यह नारी की वास्तविक व्यथा को दर्शाता है जो समाज में आज और पहले भी जिन परिस्थितियों का उसे सामना करना पड़ता था। इस अवसर पर बड़ी संख्या में कला प्रेमी साहित्यकार रंगमंच से जुड़े लोग , शहर के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

सामाजिक सरोकार में भी हो शिक्षण संस्थाएं- प्रोफेसर दुबे
इस अवसर पर उपस्थित डॉक्टर सी वी रामन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर रवि प्रकाश दुबे ने कहा कि जो किस्मत सामाजिक सरोकार के क्षेत्र में विश्वविद्यालय को कार्य करना चाहिए ताकि आयोजन सामाजिक सरकार के क्रम में ही एक कदम है।

कला संस्कृति साहित्य के संरक्षण व संवर्धन की जिम्मेदारी शिक्षण संस्थानों की-गौरव

कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के कुलसचिव और शुक्ला ने कहा कि पुस्तक यात्रा के समापन के बाद तीन दिवसीय युवा महोत्सव की शुरुआत आज से की जा रही है । सही मायने में शिक्षण संस्थानों की यह जिम्मेदारी है कि शिक्षा देने के साथ वे संस्कृति, कला साहित्य को भी संरक्षित और संवर्धित करें। इसकी शुरुआत डॉक्टर सी वी रामन विश्वविद्यालय ने लोक कला महोत्सव से की है । बीते साल विश्वविद्यालय में तीन दिवसीय लोक कला महोत्सव का आयोजन किया गया था। जिसमें प्रदेश ही नहीं देश के ख्याति प्राप्त कलाकारों ने अपनी प्रस्तुति डॉ सी वी रमन विश्वविद्यालय में दी थी। यह कार्यक्रम अब विश्व रंग के रूप में आप सबके सामने हैं

साहित्य , कला संस्कृति की जानकारी से ही बनता है परिपक्व समाज- शैलेश

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित शहर विधायक शैलेश पांडे ने कहा कि डॉक्टर सी वी रमन विश्वविद्यालय ने बिलासपुर का गौरव बढ़ाने का कार्य किया है । ऐसे आयोजनों से कला संस्कृति साहित्य को बढ़ावा मिलता है। आज के युवा युवा तकनीकी युग में जी रहे हैं और उन्हें कला साहित्य संस्कृति के बारे में बिल्कुल भी जानकारी नहीं होती ऐसे आयोजनों से युवाओं को साहित्य कला के क्षेत्र में जानकारी मिलेगी और एक सुधीर और परिपक्व हो समाज की स्थापना कर सकेंगे ।

इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रुप में उपस्थित विधायक कृष्ण मूर्ति बांधी ने कहा कि डॉक्टर सी वी रमन विश्वविद्यालय प्रदेश ही नहीं देश भर में उच्च शिक्षा के लिए विख्यात है ऐसे सांस्कृतिक और साहित्यिक कार्यक्रमों से वे देशभर में अनूठा आयोजन कर रहे हैं निश्चित ही युवाओं को इसका लाभ मिलेगा

ऑडिटोरियम में लगाई गई पुस्तक प्रदर्शनी-

इस अवसर पर लखीराम सभागृह में पुस्तक प्रदर्शनी और पोस्टर प्रदर्शनी भी लगाई गई। पुस्तक प्रदर्शनी में विभिन्न साहित्यकारों और देश के वैज्ञानिकों सहित अनेक लोगों की पुस्तिकाएं रखी गई है। इसी तरह देश दुनिया के बड़े वैज्ञानिकों के पोस्टर भी लगाए गए। जिससे मौके पर लोगों को उनके बारे में जानकारी प्रदान की गई।

हेमंत चौहान की प्रस्तुति आज-

युवा उत्सव के दूसरे दिन आज प्रख्यात भक्ति गीत गायक हेमंत चौहान की प्रस्तुति होगी तीसरे दिन रविवार को मंगला चौक मैदान में रॉक बैंड मस्ती मुंबई के कलाकार अपनी प्रस्तुति देंगे।

आपके सम्मानीय समाचार पत्र में प्रकाशित सादर प्रेषित

जनसंपर्क अधिकारी
किशोर सिंह

vandana