सामाजिक क्रान्ति के पुरोधा,तर्कशील सद्गुरु साहेब कबीर जयंती के अवसर पर सोशल जस्टिस लीगल सेल( लीगल फाउंडेशन) की ऑफिस सह ई-लाइब्रेरी प्रारंभ।

*सामाजिक क्रान्ति के पुरोधा,तर्कशील सद्गुरु साहेब कबीर जयंती के अवसर पर सोशल जस्टिस लीगल सेल( लीगल फाउंडेशन) की ऑफिस सह ई-लाइब्रेरी प्रारंभ*

 

आज सामाजिक परिवर्तन के प्रणेता,तर्कशील, समाज मे पाखण्ड व अंधविश्वास पर प्रहार करने वाले महान संत सद्गुरु साहेब कबीर जी के जन्म दिवस के अवसर पर सोशल जस्टिस एंड लीगल फाउंडेशन(सोशल जस्टिस लीगल सेल) का ऑफिस सह ई-लाइब्रेरी सतनाम भवन कृष्णा नगर पुराना धमतरी रोड रायपुर में में प्रारंभ हुआ।
कोरोना के वजह से बिना कोई विशेष आमंत्रण के रायपुर आसपास के साथी फिजिकल डिस्टेंस का पालन करते हुए मुलनिवासी समाज के जन्मलिये समस्त सन्तो महापुरुषों को नमन करते हुए सर्व प्रथम सफाई कामगार संघ के साथीगण द्वारा सन्त कबीर साहेब के छायाचित्र में पुष्प अर्पित करने के बाद उन्ही के हाथों ऑफिस का उद्घाटन किया गया।उपस्थित सभी प्रबुद्धजनो ने सारे मुलनिवासी महापुरुषों के कार्यो को याद किया।सन्त कबीर साहेब के क्रांतिकारी विचारो को
आत्मसात करने की बाते कहि गई।
सोशल जस्टिस लीगल सेल के ब्रोशर को आइना मानकर लक्षित उद्देश्यों को पूर्ति करने एवं हर संभव प्रयास करने अपनी सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करने सभी सदस्यों ने कहा।
कार्यालय उद्घाटन शार्ट कार्यक्रम सम्पन्न हमारे समाज कें गौरव,सेवानिवृत ऑफिसर डॉ घृतलहरे सर के आतिथ्य सम्पन्न हुआ।माननीय डॉ घृतलहरे सर ने 5000 चेक के माध्यम से लीगल सेल को प्रदान की।और अपनी पूरी क्षमता लीगल सेल को मजबूती प्रदान करने में लगाने की बात कही।उनका सहयोग व मार्गदर्शन हमे सतत मिलता आ रहा है।

साथीगण आप सभी अपने संवैधानिक अधिकारों की प्राप्ति हेतु लीगल सेल का साथ जरूर दे।आपको पता भी नही चल पा रहा है।हमारे साथ कहाँ -कहाँ पर सोशल इनजस्टिस हो रहा है।
सब साथ मिलकर संघर्ष जारी रखना ही एकमात्र उपाय है।

*कबीर साहेब की पंक्तिया*

कबीरा कुआं एक है,
पानी भरे अनेक,,
बर्तन में ही भेद है,,
पानी सबमे एक,,

जो तू ब्राह्मण
ब्राह्मणी का जाया,,
आन बाट से
काहे नही आया,,

*साहेब बन्दगी*
*जय सँविधान*

vandana